14 साल का मंसूर बना सबसे कम उम्र के पायलट

व‍िमान उड़ना आसान नहीं

कहते हैं कि‍ जब द‍िल में जज्‍बा हो तो उम्र और पर‍िस्‍थ‍ित‍ियां भी आड़े नहीं आ सकती हैं। इन द‍िनों संयुक्त अरब अमीरात के रहने वाले 14 वर्षीय भारतवंशी किशोर मंसूर अनीस काफी चर्चा में हैं। देश ही नहीं पूरी दुन‍िया में लोग इनके अनोखे कारनामे से हैरान हो रहे हैं क्‍योंक‍ि ये सबसे कम उम्र के पायलट जो बन गए हैं। हाल ही में मंसूर ने अनीस सेसना 152 एयरक्राफ्ट नाम की फ्लाइट को करीब 10 म‍िनट तक उड़ाया है। इस दौरान वह क‍िसी परफेक्‍ट पायलट से कम नहीं लग रहे थे। उनके इस कारनामें से लोग इसलि‍ए हैरान हैं क‍ि महज 14 साल की उम्र में सेसना 152 एयरक्राफ्ट वह भी अकेले उड़ाना कोई आसान काम नहीं था लेकि‍न अनीस ने ऐसा कि‍या है। मंसूर को स्टूडेंट पायलट परमिट मिला हुआ है।

बचपन से ही उड़ता था प्लेन 

वहीं मंसूर अनीस को AAA ऐविएशन फ्लाइट अकादमी की ओर से सर्टिफिकेट द‍िया गया है। पायलट सर्टिफिकेट देने से पहले उसे कई तरह के फ्लाइंग टेस्ट से गुजरना पड़ा था। ज‍िसमें वह पास हो गया था। मंसूर के पिता अली अनीस नागपुर के मां मुनेरा फैजी उज्जैन की रहने वाली हैं। मंसूर के चाचा पायलट काईद फैजी का कहना है क‍ि उनका भतीजा बचपन से ही पायलट बनना चाह‍ता था। वह खिलौनों में भी सबसे ज्‍यादा प्लेन व हेलीकॉप्टर खरीदता था और द‍िन भर उन्‍हें ही उड़ाता था। ऐसे में जब वह समझदार हुआ था इसी के प्रशि‍क्षण में द‍िन रात एक करने लगा था। मंसूर अनीस ने 15 साल की उम्र में पायलट बनने वाले एक लड़के का रि‍कॉर्ड तोड़ द‍िया है। अभी तक यह जर्मनी का पायलट सबसे कम उम्र का पायलट था।

Share Your Thoughts In Comment Box Below