दुनिया में इन देशों में अब भी चलती है राजशाही

दुनिया में लोकतांत्रिक व्‍यवस्‍थाएं सबसे बेहतर मानी जाती हैं जबकि इसकी तुलना में राजशाही में जनअधिकारों पर हमेशा से संदेह की छाया रही है. यही वजह है कि अधिकतर देशों में लोकतात्रिंक सरकारें हैं, जिनमें जनता द्वारा, जनता से, जनता के लिए सरकार बनती है. लेकिन दुनिया में आज भी कुछ ऐसे देश हैं जहां राजशाही हैं. आइए आपको बताते हैं दुनिया के 6 ऐसे देश जहां आज भी राजाओं का शासन है.

यूएई

संयुक्त अरब अमीरात में 7 राज्य हैं, जो मिलाकर यूएई बनाते हैं. अबुधाबी के शेख को देश के स्वामी का दर्जा मिलता है. जो मौजूदा समय में शेख खलीफा बिन जाएद अल नाह्येन हैं. वो देश के राष्ट्रपति हैं, वहीं, दुबई के किंद शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मक्तोउम को प्रधानमंत्री पद मिला हुई है, वहीं, सातों राज्यों के शेखों को अपने राज्यों में राज करने की पूरी छूट है.

वेटिकन सिटी

जी हां, दुनिया के सबसे छोटे देश वेटिकन सिटी में पूरी तरह से राजशाही चलती है. यहां के राजा पोप होते हैं, जो इस 2 किमी की सीमा वाले देश के सर्वेसर्वा होते हैं. वेटिकन सिटी इटली की राजधानी रोम के भीतर अलग ही देश है. जहां न सिर्फ अलग कानून हैं, बल्कि अलग नंबर प्लेट, पासपोर्ट, बिजली कनेक्शन, पहचान पत्र तक हैं.

स्वाजीलैंड

स्वाजीलैंड में राजा को न्ग्वेनयामा यानी शेर कहा जाता है और मौजूदा समय में यहां के राजा हैं मस्वाती III, जो 1986 में राजा बनें. मस्वाती III स्वाजीलैंड में मंत्रियों के दम पर राज करते हैं. यहां राजा की मां उनके बराबर सत्ता में भागीदार हैं और पूरा परिवार बिना किसी दबाव के राजसत्ता का भरपूर उपयोग करता है. यहां ससंद और सर्वोच्च न्यायालय तो हैं पर राजा का आदेश सर्वोपरि होता है. स्वाजीलैंड में शाही परिवार द्वारा मानव अधिकारों के हनन की घटनाएं सामने आती ही रहती हैं. मौजूदा राजा मस्वाती III की 15 पत्नियां और 30 बच्चे हैं.

ओमान

ओमान में सुल्तान का राज चलता है. वो सेना का स्वामी है और प्रधानमंत्री, विदेशमंत्री और वित्तमंत्री है. यहां किसी तरह की कोई राजनीतिक पार्टी नहीं है न ही किसी को राजनीति की अनुमति है.

ब्रुनेई

दक्षिण पूर्वी एशिया का देश ब्रुनेई पूरी तरह से स्वतंत्र है. ब्रुनेई को 1984 में ब्रिटेन से आदाजी मिली. यहां सुल्तान हसन-अल बोल्किया का राज चलता है.

एंडोरा

एंडोरा देश यूरोप में है, जो दूसरा सबसे छोटा देश है. इस देश पर स्पेन और फ्रांस का प्रभाव है. ये देश कभी किसी का गुलाम पूरी तरह से नहीं हुआ, पर कभी पूरी तरह से आजाद भी नहीं रहा. एंडोरा की स्थापना सन 1607 में हुई थी. इस देश पर स्पेन के बिशप की राजशाही चलती है, वहीं फ्रांस के राष्ट्रपति को भी राजा की पदवी खुद ब खुद मिलती है. इस देश में सेना के नाम पर 12 सैनिक रहते हैं, जो औपचारिकता के लिए हैं. ये देश बेहद धनी है.

 

Share Your Thoughts In Comment Box Below